Author: प्रवीण गोला

Loading...

    मैंने जैसे ही उसका साथ छोड़ा ….. उसके बदनाम रिश्ते का अंत वैसे ही धीरे-धीरे होने लगा । भला बदनाम रिश्तों की भी कभी कोई उम्र हुआ करती है ? ~ प्रवीण गोला