मेरे फ़ोन की उस हिंदी ‘keyboard’ के ‘Backspace’ बटन की,
अपनी एक अनोखी कहानी है,
ख्यालों को शब्दों में ढालने से ज्यादा,
उसने आवारा अक्षरों को ख़याल बनने से रोका है।।

 

Share If You Care!

Responses