Category Archives: दोस्ती

फुटबॉल – II

रवि सुबह से बड़ा बेचैन था, आज बारह बजे बाहरवीं कक्षा के बोर्ड परीक्षा का परिणाम आने वाला था। परिणाम का तो सभी छात्रो को बेसब्री से इंतज़ार रहता है। रवि को भी अपनी परीक्षा का बेसब्री से इंतज़ार था, उसका यह इंतज़ार कुछ घण्टे में खत्म होने वाला था। सुबह से उसे एक-एक पल…

फुटबॉल

  सुबह-शाम पार्क में खुले वातावरण में घूमने-फिरने से मन तरोताज़ा हो जाता है और सेहत के लिए भी अच्छा होता है। इसीलिए लोग सुबह-शाम पार्क में टहल लिया करते है। रवि भी कुछ दिनों से शाम को पार्क में टहलने आ रहा था। कुछ देर खुली हवा में बैठकर और थोड़ी देर टहल के…

असली जीत

मनुष्य कई बार हारकर भी जीत जाता है और यही बयां कर रही है यह कहानी।     राज और राजन एक ही कक्षा में पढ़ने वाले दो छात्र थे, वह दोनों ग्यारहवी कक्षा के छात्र थे। दोनों में आपस में दोस्त थे। राजू साधारण सा छात्र था, वह पढाई में भी सामान्य था और…

दो दोस्त

दो बच्चे कैसे बढ़िया दोस्त बन, यह दास्तां बयां करती है यह कहानी|     मोनू आज भी सुबह सुबह अपने घर से विद्यालय जाने के निकला और अपनी माँ के साथ विद्यालय को जाने लगा। मोनू रोज रोड पर जितनी भी दुकाने होती उन सबको देखते और निहारते हुए विद्यालय को जाता था। ऐसे…